दीदी की बूढी सास जवान जेठानी और ननद तीनो को एक साथ चोदा

 
loading...

मैं इस वेबसाइट का नियमित पाठक हूँ। मेरी जिंदगी में हुई मस्त चुदाई की कहानी आप लोग के साथ शेयर कर रहा हूँ। ये कही तब की है जब मैं अपनी दीदी के ससुराल बहुत सालो बाद घूमने गया था। पहले कई बार जाना हुआ था लेकिन तब मम्मी पापा के साथ ही जाता और एक दो दिन में वापस आ जाते थे आखिरी बार जब मैं 15 साल का था तब यहाँ आए थे और मुझे सब ने मुझे बहुत प्यार दिया था उस समय जीजा जी के पापा जिन्दा थे 1 साल पहले ही उनकी डेथ हो गयी।अब मैं अपने बारे में बता दू मेरी उम्र अभी 19 साल है और मैं बी कॉम की पढाई कर रहा हूँ, मेरी कॉलेज में गर्मी की छुट्टिया हुई और इस बार अकेला 15 दिन के लिए दीदी के घर रहने के लिए चला गया। मुझे दीदी की सास घूमने के लिए बुलाई थी। दीदी के ससुराल में मेरी दीदी गीता 26 साल, दीदी की ननद रेखा 32 साल, दीदी की जेठानी माया 29 साल और दीदी की सास ललिता 52 साल, चार औरतें इसके अलावा मेरे जीजा जी और उनके बड़े भाई है। जीजा और उनके भाई का कपडे की दुकान है।

मैं पुरे 4 साल बाद दीदी के घर गया मुझे देख कर सब खुश हुए मैं जब वहां पंहुचा सुबह 11 बज चुके थे सभी घर पर थे मैं सब से मिला और दीदी मुझे गेस्ट रूम में ले गयी और बोली ये तेरा कमरा है, जल्दी से फ्रेश हो जा मैं नास्ता लगा देती हूँ। मैं फ्रेश हो कर बहार आया तब तक जीजा और उनके भाई दोनों अपने कपडे की दुकान चले गए थे घर पर सिर्फ ये चारो औरतें ही थी जब मैं नास्ता करने बैठा तब वो सब मुझे नास्ता खिलने लगी और बहोत प्यार से मेरा ख्याल रख रही थी, ये सब देख कर मेरी दीदी बहुत खुश हुई। दीदी की ननद अपने मायके में ही रहती है उनके पति का रोड एक्सीडेंट में 4 साल पहले डेथ हो गया था। मुझे सब से ज्यादा प्यार वही दिखा रही थी।
अब मैं असली कहनी पर आता हूँ – मैंने कभी सेक्स नहीं किया था और मैं सिर्फ कहनिया पढता और पोर्न मूवीज देख कर महीने में 15 दिन तो मुठ मार ही लेता था। मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं हुई थी तो हाथ का ही सहारा था मुझे। दीदी के घर रहते मुझे 5 दिन हो गए थे, मैं सब से अच्छे से घुल मिल गया था जीजा और बड़े जीजा जी दोनों काम में बिजी रहते थे जब वो देर रात आते तो उनसे ज्यादा बात नहीं हो पाती थी.. hindipornstories.com
उसी रात खाना खाने के बाद मैं अपने कमरे में लेटा हुआ था बहुत दिन से मुठ नहीं मारा था इसलिए मुझे नींद नहीं आ रही थी और मैं मोबाइल पर ऑनलाइन सेक्स वीडियो देखने लगा घर पर सब सोये हुए थे रात के 12 बज रहे थे मैं बिंदास लंड बाहर निकाल कर सेक्स वीडियो देखते हुए लंड को हिला रहा था और वीडियो देखने में पूरा मस्त था। मेरा लंड 6 इंच लम्बा और काफी मोटा है।

वीडियो में मस्त चुदाई चल रही थी जिसमे प्रिया राय मस्त चुदवा रही थी मैं साइड हो कर लेट गया और मोबाइल दोनों हाथ से पकड कर वीडियो देखने में बिजी हो गया तभी मेरे लंड पर मुझे किसी का हाथ महसूस हुआ और मैं मोबाइल हटा के देखा दीदी की ननद रेखा मेरा लंड अपने हाथ में पकड़ कर हिला रही थी मैं हड़बड़ा कर मोबाइल साइड फेक कर बोला आप यहाँ ? रेखा मुझे देख कर मुस्कुरा रही थी और मेरा लंड हिलाये जा रही थी मैं कुछ समझ ही नहीं पाया ये सच है या सपना ? मेरी गांड फटी पड़ी थी ये क्या हो गया मैं पकड़ा गया यही सोच रहा था लेकिन तभी रेखा बोली क्या हुआ बाबू डरो मत मैं सब देख रही थी तू क्या करना चाहता है। कभी किया भी है या सिर्फ मोबाइल में देख कर हाथ ख़राब करता है। मैं बोला नहीं आज तक मैंने किसी लड़की को रियल में नंगी भी नहीं देखा। रेखा बोली अच्छा ऐसी बात है, मैं दिखा देती हूँ। रेखा उठी और अपनी सलवार कमीज उतारने लगी मैं बैठा देख रहा था , मुझे बोली आना छू कर देख तब तो मजा आएगा तुझे और मुझे भी।

मैं अब समझ गया था आग दोनों तरफ है और मैं उठ कर रेखा को बाँहों में भरलिया और उसको लिपलॉक करने लगा मेरा पहला चुम्मा था वो भी बहोत टेस्टी। इस घर में सभी औरतें बहुत खूब सूरत है मेरी दीदी उनकी सास और जेठानी तीनो कमाल की है और चौथी सब से सुन्दर औरत मेरी बाँहों में चुदने को बेताब थी मैं बहोत खुस था मेरा लंड पहली बार इतना सख्त खड़ा हुआ था।  मैं रेखा की ब्रा उतर कर फेक दिया और उनके बूब्स बहार आ गए रेखा के बूब्स पोर्नस्टार से भी बड़े और गोरे है ये देख कर मैं पागल हो गया और उसके बूब्स पर टूट पड़ा दोनों बूब्स को बारी बारी से चूसने लगा। रेखा ओह्ह्ह्हह्ह्ह्ह आअह्ह्ह्हह उम्मम्मम्म की आवाज निकलने लगी मैं रेखा को गोद में उठा कर बिस्तर पर लेटा दिया और उसकी पेंटी को धीरे से निचे सरका दिया , रेखा की चूत बिल्कुल क्लीन सेव्ड थी उसने आज ही चूत साफ़ किया था।

रेखा की चूत पूरी तरह से गीली हो चुकी थी मैं उसकी चूत को पास जा कर सुंघा उसमे से अजीब से मादक खुसबू आ रही थी मैं खुद को रोक नहीं पाया और उसकी चिकनी चूत चाटने लगा चूत का पानी चाट कर मजा आ रहा था चूत का दाना जीभ से चाट चाट कर लाल कर दिया। अब में उठा और अपना पूरा कपडा उतार दिया और रेखा के बगल में लेट गया रेखा उठी और मेरे लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी मेरे लिए ये अहसास बिलकुल नया था मैं किसी अलग ही दुनिया में था रेखा को सब पता था कैसे करना है वो मेरा लंड पूरा अंदर तक ले कर चूस रही थी थोड़ी देर बाद रेखा बोली बाबू अभी असली काम करे ? मैं बोला क्या काम? रेखा बोली मेरा सोनू बाबू मेरी चुदाई कर दो।

रेखा बेड पर अपनी टाँगे उठा कर लेट गयी और बोली आओ मेरा बाबू पहली चुदाई का मजा लो, मैं रेखा की चूत में लंड डाला और धीरे से पूरा लंड अंदर डाल दिया रेखा की चूत अभी भी कसी हुई थी क्यों की रेखा 4 साल से चुदी नहीं थी। मैं लंड को आगे पीछे कर के धक्के लगाने लगा रेखा मुझे देख रही थी और चुदाई का मजा ले रही थी।

2-3 मिनट की चुदाई के बाद रेखा बोली मैं घोड़ी बनती हु तू मेरी गांड चोद, मैं रेखा के गांड को चाटने लगा और उसकी गांड की छेद में थूक लगा कर लंड अंदर दाल दिया रेखा की गांड बहोत ज्यादा टाइट थी रेखा को दर्द हुआ लेकिन वो पूरी मस्ती में थी। hindipornstories.com

रेखा की गांड बहोत कसी हुई थी इसलिए थोड़ी की चुदाई के बाद मेरा लंड पानी छोड़ दिया और रेखा की गांड में पूरा पानी भर गया। 
मैं थक कर बिस्तर में लेट गया रेखा अपनी चड्डी से गांड साफ करने लगी और मेरे लंड को फिर से चूसने लगी मैं आराम से लेटा रहा मेरा लंड 2-3 मिनट में फिर से खड़ा हो गया इस बार रेखा मेरे ऊपर चढ़ गयी और उचक उचक कर चुदवाने लगी रेखा के बूब्स हवा में तैर रहे थे मैं उसकी गांड को पकड़ कर उसको और स्पीड से ऊपर निचे धकेलने लगा रेखा पागलों की तरफ मेरे लंड में जम्प मार रही थी 5 मिनट में रेखा निचे उतर कर लेट गयी और मुझे चोदने को बोली मैं इस बार रेखा के ऊपर चढ़ गया और लंड चूत में डाल दिया धीरे धिरे चोदना सुरु किया रेखा और मेरा शरीर पूरा चिपका हुआ था उसके बूब्स मेरे सीने को सहारा दिए हुए थे और मैं रेखा के ओंठो को चूसते हुए उसे पूरी गति से चोदने लगा। आप ये स्टोरी इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।

रेखा जोश में थी और ओह्ह्ह्हह्ह्ह्ह आअह्ह्ह्हह उम्मम्मम्म की आवाज निकाल रही थी। पूरा कमरा आह्हः उह्ह्ह्ह आउच और फच फुच की आवाज से गूंज रहा था। 
रेखा अपने सारे नाख़ून मेरे पीठ पर गड़ा डाली और मैं उसकी चूत 10-12 मिनट चोदने के बाद उसकी चूत में ही झड़ गया इस बीच रेखा की चूत 2 बार पानी छोड़ चुकी थी हम दोनों ऐसे ही नंगे पड़े रहे। थोड़ी देर में रेखा उठी और अपनी चूत को चड्डी से और मेरे लंड को चूस कर पूरा साफ़ कर दी।

हम दोनों नंगे ही लेट गए और रेखा बोली बाबू आज तूने मेरी इतने सालो की प्यास बुझा दी, मैं तुझे और कुछ बताना चाहती हूँ। मैं बोला हा रेखा मेरी जान बोलो क्या बात है, रेखा बोली इस घर में दो और औरतें लंड की प्यासी है क्या तुम उनको भी चोद सकते हो ?

मैं पहले थोड़ा चौक गया और बोला दो औरतें मैं समझा नहीं? रेखा बोली मेरी माँ और माया भाभी, मैं बोला आप की माँ इस उम्र में भी प्यासी ? रेखा बोली हां पापा बीमार रहते थे और माँ 15 सालो से लंड के लिए तरस रही है। और भाभी आज तक कुवारी है। 
मैं बोला माया को बड़े जीजा नहीं चोदते क्या ? रेखा बोली बड़े भैया का लंड सिर्फ 2 इंच का है माया आज तक कुवारी है। घर में हम सब औरतें आपस में ये सब बातें खुल कर करती है। तेरी दीदी को भी सब पता है, इस घर में सिर्फ तेरी दीदी की चुदाई होती है बाकी सब की चूत तरस रही है,
तेरी दीदी गीता और हम सब ने प्लान बना कर तुझे यहाँ बुलाया है ताकि तू हम सब की प्यास बुझा दे और सुरुवात करने के इन्तजार में 5 दिन निकल गए है।

मैं थोड़ा चौका हुआ था और खुस भी था, मुझे यहाँ एक साथ इतने चूत मिल रही थी वो भी जवान खूबसूरत औरतों की। रेखा बोली कल मैं सब को तैयार कर लुंगी और कल रविवार है दोनों भाई अपने दोस्त की शादी में जाने वाले है रात को वापस आना नहीं होगा। कल की रात चुदाई की रात है दिन में तू आराम कर लेना रात भर चुदाई का खेल चलेगा। मैं बहुत खुस हुआ और बोला क्या दीदी भी मुझ से चुदवायेगी ? रेखा बोली नहीं उसने तुझे हम तीनो के लिए बुलाया है, वैसे भी तेरी दीदी की हर रात चुदाई होती है उसको लंड की जरुरत नहीं। आप ये स्टोरी इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।

उसके बाद रेखा रात भर मेरे साथ नंगी सोई रही और सुबह 5 बजे कपडे पहन कर अपने कमरे में चली गयी। आगे की कहानी में – मैं आप को बताऊंगा कैसे मैंने तीनो औरतों को एक साथ चोदा और 52 साल की औरत की चूत का मजा कैसा था वो भी आप को पता चल जायेगा। तब तक इस ग्रुप सेक्स की स्टोरी का इन्तजार करें अगला पार्ट जल्द ही आएगा। hindipornstories.com

दीदी के ससुराल में चुदाई की कहानी शुरू हो चुकी है, अब मैं आप को आगे की कहानी सुनाता हूँ, रात को मैंने दीदी की ननद रेखा की चुदाई की मेरी पहली चुदाई थी मेरे लंड की चमड़ी थोड़ी छील गयी थी, मुझे लंड में जलन हो रही थी। सुबह रेखा मेरे कमरे मे आयी और मुझे उठाते हुई बोली मेरा सोना बाबू उठ जाओ चाय लाई हूँ पीओ और जा कर फ्रेश हो जाओ। मैं उठा और रेखा को किश किया रेखा किचन चली गयी मैं चाय पिकर फ्रेश हुआ और थोड़ी देर में दीदी मुझे नास्ता करने के लिए बुला ली, नास्ते के लिए हम सब बैठ गए।

जीजा जी और उनके भाई भी थे हम सब ने नास्ता किया आज घर की सभी औरतों के चहरे पर अलग ही खुशी थी, वो सब जानती थी आज उन्हें चुदाई का सुख मिलने वाला है। हम सब ने नास्ता किया उसके बाद जीजा जी और उनके भाई अपने दोस्त की सादी में जाने के लिए निकल गए और जाते हुए बोले घर में सब का ख्याल रखना हम लोग कल दोपहर 12 बजे तक वापस आ जाएंगे। इसके बाद मैं टीवी देखने लगा सभी औरतें किचन में खाना बनाने लगी। 2 बजे हम सब ने खाना खाया, खाना खाते समय रेखा मेरे बगल में बैठी थी और मुझे अपने हाथ से खिला रही थी, दीदी की जेठानी माया मुझे बड़े प्यार से शर्मा कर देख रही थी और दीद की सास ललिता बोली अच्छे से खा ले बेटा तुझे बहोत मेहनत करनी है आज। मेरी दीदी और सभी औरतें हसने लगी मैं भी हंस पड़ा, खाना ख़तम कर के मैं थोड़ा आराम करुगा बोल कर अपने कमरे में आ गया।

मैं लेटा हुआ सोच रहा था रात को कैसे सब की चुदाई करुगा और कितना मजा आएगा मेरा लंड खड़ा हो गया था। दीदी की सास कमरे में आई और बोली बेटा तूने कल रात रेखा को जो मजा दिया है आज मुझे और माया बहु को भी दे दे मैं बोला – अम्मा जी रेखा बोली है रात को करेंगे। दीदी की सास बोली बेटा रात को तो सब मिल कर करेंगे अभी तू मुझे और माया को चोद दे, हम दोनों से रुका नहीं जा रहा है। मैं बोला ठीक है दीदी की सास माया को आवाज दे कर बुला ली साथ में मेरी दीदी और रेखा भी आ गयी।

मैं अपनी दीदी को देख कर शरमा गया और बोला दीदी आप जाओ मैं आप के सामने नहीं कर पाऊगा तभी दीदी की सास ललिता बोली रेखा तू भी जा अभी ये मुझे और माया को चोदेगा। दीदी और रेखा चली गयी, दीदी की जेठानी माया और दीदी की सास ललिता मेरे पास आ कर बैठ गयी और बोली बाबू शुरू करें ? मैं उठा और माया जो अभी तक 29 साल की उम्र में भी कुवारी थी उसे पकड़ कर चूमने लगा उसके बूब्स मध्यम आकर के थे जिसे मैं ब्लाउज के ऊपर से ही दाबने लगा तभी दीदी की सास पीछे से आयी और मुझे पकड़ ली अभी मैं माया की बूब्स मसल रहा था और दीदी की सास पीछे से मुझे लिपटी हुई थी मैं पहले माया की साड़ी खोला उसके बाद ललिता की साड़ी उतार दिया दोनों ब्लाउज और पेटीकोट में थी। मैं दोनों के बारी बारी ब्लाउज और पेटीकोट उतर दिया अभी माया और ललिता ब्रा पेंटी पहनी हुई खड़ी थी मैं माया को बोला मेरे कपडे उतरो तभी दीदी की सास कूद पड़ी और मेरे कपडे निकल कर फेक दी। बुढिआ में कुछ ज्यादा ही गर्मी थी। मैं चड्डी में खड़ा था मैंने माया की ब्रा और पेंटी निकल दी और उसको बेड पर लेटा दिया माया के चूत में हलके बाल थे उसने 4-5 दिन पहले ही क्लीन किया होगा।  hindipornstories.com
दीद की सास खुद से ब्रा पेंटी उतार मेरी चड्डी निकाल दी, मेरा लंड देखी और बोली वह क्या लंड है ऐसा मैं आज तक नहीं देखी माया उठी और वो भी मेरे लंड को घूरने लगी।

दीदी की सास के चूत में बड़े बड़े बाल थे सायद उसने महीनो से साफ़ नहीं किया था।

माया तो खूबसूरत थी ही दीदी की सास 52 साल के उम्र में भी कमाल की दिख रही थी। मैं माया की चूत चाटने लगा और दीदी की सास माया के मुँह में अपनी चूत सटा कर चटवाने लगी मैं बोला आप लोग एक दूसरे की चूत चाटती हो क्या दीदी की सास बोली हाँ  रेखा, माया और मैं आपस में एक दूसरे की चूत चाट कर ही इतने सालों से अपनी वासना मिटा रही है।

2 मिनट ऐसे चूत चाटने के बाद मैं उठा, माया और ललिता दोनों बैठ कर मेरा लंड चूसने लगी दीदी की सास ललिता मेरी गोटिया चाटने लगी मैं मजे से खड़ा हो कर चुसवा रहा था। 5 मिनट बाद मैं माया को उठा कर बिस्तर पर लेटा दिया दीदी की सास माया को अपनी चूत चटाने लगी मैं माया की चूत में लंड डालने लगा लेकिन लंड अंदर नहीं जा रहा था कुवारी औरत को चोदने का ये मेरा पहला मौका था मैं एक जोर का धक्का दिया और मेरा लंड का सूपड़ा माया की चूत को चीरते हुए अंदर घुस गया। माया के मुँह में ललिता की चूत थी उसकी चीख भी नहीं निकल पायी मैं एक और जोर का धक्का दिया पूरा लंड अंदर माया की चूत की गहराई में चला गया माया की चूत से खून निकलने लगा और मेरे लंड पर पूरा खून लग गया मैं धीरे धीरे धक्के देने लगा, माया को दर्द हो रहा था लेकिन मैं रुका नहीं और चोदने लगा। 2 मिनट बाद माया निचे से धक्के मारने लगी माया पुरे मजे में थी और मैं उसकी चूत चोद रहा था।

दीदी की सास बोली बाबू रुक जाओ अभी माया को थोड़ा आराम दो मुझे चोद अब मैं माया की चूत से लंड निकाल दिया। दीदी की सास टांग उठा कर लेट गयी इस बार माया ललिता के मुँह में चूत डाल दी और चाटने को बोली ललिता माया की खून लगी चूत चाटने लगी। मैं ललिता की चूत में लंड डाला ललिता की बूढी चूत पूरी तरह ढीली पड़ चुकी थी पूरा लंड आराम से अंदर चला गया मैं फुल स्पीड में चोदने लगा 5 मिनट में ललिता की चूत पानी छोड़ दी। अब माया उठी और दोनों अगल बगल लेट गयी। मैं माया की चूत को चाटने लगा। दीदी की सास की चुदाई पूरी हो गयी थी लेकिन उसकी हवस नहीं मिटी थी वो पीछे से मेरा गांड चाटने लगी मैं माया की चूत चाट कर उसे चोदने के लिया उठाया और डॉगी स्टाइल में पीछे से उसकी चूत में लंड डाल कर चोदने लगा , माया की 2-4 मिनट चुदाई करते हुई माया अह्ह्ह्हह्ह्ह्ह ओह्ह्ह्हह्ह्ह्हह इस उम्मम्मम्म करने लगी माया की गांड पे धक्के लग रहे थे इसलिए फच फच की आवाज आ रही थी।

2 मिनट और चोदने के बाद मैं निचे लेट गया और माया को मेरे लंड पर बैठ कर चोदने को बोला माया उछल उछल कर चोदने लगी 5 मिनट में मेरा लंड पानी छोड़ दिया साथ ही माया भी झड़ गयी हम दोनों लिपट कर सोये गए। 

मेरे पीछे से दीदी की सास लिपट गयी, इतनी चुदाई के बाद मैं थोड़ा थक गया और बोला मैं सो रहा हु रात को सब को एक साथ चोदना भी है। माया और ललिता ठीक है बोल कर चली गयी।  hindipornstories.com
जाते हुए दीदी की सास रेखा को आवाज दी और बोली बाबू को आ कर सुला दे रेखा। मैं खुस हो गया मुझे रेखा की बाहों में अच्छी नींद आयी थी, रेखा की खुसबू मुझे दीवानी बना देती है। रेखा आ गयी हम दोनों ने किश किया और मैं रेखा को लिपट कर सो गया कब नींद आयी पता ही नहीं चला।

रात के 8 बजे मेरी नींद खुली रेखा मेरे बगल में नहीं थी मैं बाहर गया और देखा सब किचन में काम कर रही है मैं बाथरूम जा कर फ्रेश हुआ मेरी नींद पूरी हो गयी थी अब मुझे अच्छा लग रहा था और मैं रात की चुदाई के लिए तैयार था।
आगे की कहानी पार्ट 3 में , कहानी के तीसरे भाग में आप को पता चलेगा कुछ नया ,,, इसलिए इन्तजार करें।

मुझे दीदी की सास और जेठानी की चुदाई कर के वैसा मजा नहीं आया जैसे दीदी की ननद रेखा को चोद कर आया था मेरे दिमाग में सिर्फ रेखा थी। आज की रात सिर्फ रेखा के साथ बिताना चाहता था लेकिन दीदी की बुढ़िआ सास और जेठानी को चोदना मेरी मज़बूरी थी। मुझे एक आईडिया आया और मैं पास के मेडिकल स्टोर से वियाग्रा की गोली ले आया क्यों की आज रात मैं जल्दी झड़ना नहीं चाहता था और मेरा प्लान ये था की दीदी की सास और जेठानी को पहले चोद कर छोड़ दूंगा बाद में आराम से रेखा को प्यार से चोदुँगा।

9 बजे हम सब ने खाना खाया, खाना खाने के बाद दीदी की सास बोली बाबू मुझ में अब वो पहले वाली जोश नहीं रही तुझे भी मेरे साथ मजा नहीं आया होगा मुझे सिर्फ एक बार अपनी 15 साल पुरानी हवस मिटानी थी जो अब शांत हो चुकी है, अब तू रेखा और माया को चोद मैं बुढ़िआ संतुस्ट हो चुकी हूँ। दीदी की सास ललिता सोने चली गयी, मेरी दीदी गीता और माया किचन साफ़ कर रही थी रेखा मेरे पास आ कर बैठ गयी। मैं रेखा से बोला रेखा मुझे तुमसे प्यारो गया है, मैं तुमसे शादी करना चाहता हूँ, रेखा की आखों से खुसी के आंसू निकल गए। रेखा मुझे चूमने लगी और बोली मैं भी तुमसे बहोत प्यार करने लगी हूँ लेकिन शादी कैसे होगा तुम अभी 19 के हो और मैं तुमसे 13 साल बड़ी हूँ, अगर तुमको मुझसे शादी करनी भी है तो 2 साल इन्तजार करना पड़ेगा और घर वाले सायद ही मानेंगे।  hindipornstories.com

मैं बोला ठीक है इन्तजार कर लूंगा और अपने समरे में चला गया, कमरे में पहुँच कर मैंने गोली खा ली और लेट गया 40-45 मिनट में गोली का असर हो गया और मेरा लंड पूरी तरह अकड़ कर खड़ा हो गया था। मैं कण्ट्रोल कर के लेटा रहा थोड़ी देर में रेखा आयी और बोली चलो आज मेरे कमरे में चुदाई करते है माया वही है। मैं रेखा को गोद में उठा कर उसके कमरे में चला गया। पहले रेखा और माया मिल कर मेरे कपडे निकल दी फिर मैं उन दोनों को नंगी कर दिया अभी हम तीनो नंगे थे मेरा लंड लोहे की रॉड की तरफ सख्त खड़ा था, मैं माया को बुरी तरह चोद कर भगाना चाहता था, ताकि मुझे रेखा अकेली मिल जाये।

मैं माया को बेड पर लेटा कर उसके ऊपर चढ़ गया माया के चुत की सील आज ही टूटी थी इसलिए वो थोड़ा दर्द में थी मैं बोला माया दर्द होगा तुम्हे माया बोली नहीं बाबू तुम करो दर्द में भी मजा है और ऐसा मौका बार बार नहीं आएगा। मैं माया की चुत में लंड पूरी ताकत से एक बार धक्का मार के घुसा दिया माया चिल्ला उठी आउच ओह्ह्ह माँ मर गयी मैं बहार निकालो। मैंने चुत में लंड गीली किये बिना ही एक झटके में पेल दिया था . जिससे माया को बहोत दर्द हुआ मैं थोड़ा देर रुका और रेखा मेरा लंड चूसने लगी मैं माया की चुत चाट कर गीली किया और इस बार धीरे धीरे चोदने लगा माया पुरे जोश में थी अह्ह्ह उह्ह्हह्ह उम्मम्मम्मम ओह्ह्ह्हह्हह मैं जोर जोर से धक्के मार के चुदाई कर रहा था रेखा बैठी देख रही थी 15 मिनट लगातार मैं माया की चुदाई करता रहा माया की चुत 2 बार झाड़ चुकी थी माया मुझे लंड बाहर निकलने को बोली और साइड हो कर लेट गयी। माया के चूत से फिर खून निकल रहा था रेखा बोली माया भाभी आप जा कर आराम करो अब 4-5 दिन बाद ही चोदवाना।

मेरा प्लान बिलकुल सही निशाने पर लगा था, अब मैं और रेखा अकेले थे और पूरी रात पड़ी थी चोदने के लिए, मैं उठा और रेखा पर पागलों की तरफ टूट पड़ा और उसके सरीर के हर हिस्से को चाटने और चुसने लगा रेखा सिसकारियां लेने लगी आह्ह्ह्हह उम्मम्मम्मम्म आह आह मैं रेखा के लिप्स से लेकर उसकी गांड चूत बूब्स पेट कमर को चाट कर साफ़ कर दिया रेखा जोश से छटपटाने लगी और मुझे बेड में लेटा कर मेरा लंड चूसने लगी 5 मिनट लंड चूसने के बाद रेखा मेरे लंड पर बैठ गयी और जोर जोर से धक्के लगा कर चोदने लगी मैं रेखा को अपने ऊपर लेटा लिया और निचे से धक्के मारने लगा फच फच फच की आवाज से कमरा एक बार फिर गूंज गया। रेखा मुझे काटने लगी मेरे शरीर में फिर से नाख़ून गड़ा डाली मैं जोश से पागल हुआ जा रहा था और रेखा को कस कर पकड़ लिया और अपनी सब से तेज स्पीड से चोदने लगा फच फच फच ,,, रेखा उम्म्म्म उम्मम्मम्मम अह्ह्ह्हह ओह्ह्ह्हह्ह अह्ह्ह्ह चोदो बाबू और जोर से और जोर से मेरी जान और जोर से अहह अह्ह्ह्ह 20 मिनट मैंने रेखा को चोदा मेरा लंड पानी छोड़ दिया और रेखा पहले ही ४ बार झाड़ गयी थी हम दोनों एक दूसरे से लिपटे सोये रहे लंड और चुत का पानी बाहर निकल कर बिस्तर में जा रहा था लेकिन हम दोनों इसकी परवाह किये बिना दो जिस्म एक जान बन कर लिपटे सोये रहे अभी भी मेरा लंड रेखा की चूत में था। 

रात के 1 बज रहे थे हम दोनों 30-35 मिनट ऐसे ही लेटे रहे मैं रेखा को उठाया और कपडे से उसकी चूत को साफ़ किया और लंड को रेखा चूसने लगी मेरा लंड फिर से एक बार खड़ा हो गया मैं खड़ा हुआ और रेखा को गोद में उठा लिया रेखा मेरे कंधे पकड़ कर मुझ से लिपट गयी अब मैं रेखा की चुत में लंड घुसाया और खड़े खड़े चोदने लगा 5 मिनट चोदने के बाद मैं थक गया और रेखा को ऐसे उठा कर बहार डाइनिंग टेबल पर लेता दिया और खड़े हो कर चोदने की जगह बना लिया रेखा की दोनों टांगो को अपने कंधे पर रखा और चूत में लंड डाल कर चोदने लगा 4-5 मिनट बाद रेखा को उल्टा किया और उसकी गांड में लण्ड डाल कर खड़े खड़े चोदने लगा रेखा ममममममम अह्ह्ह्हह अह्ह्ह्हह्हह अह्ह्ह्ह ओह्ह्ह्हह्ह करने लगी चुदाई से फोच फोच की आवाझ बहोत आ रही थी मैं पुरे स्पीड में चोदने लगा मेरा लंड झड़ गया और रेखा की गांड में पूरा माल भर गया।

मैं रेखा को उठाया और हम दोनों कुर्सी में बैठ गए मैं जैसे पलटा मेरी दीदी गीता अपने कमरे के दरवाजे पर खड़ी सब देख रही थी और अपनी चूत खुजाते हुए बोली बाबू यहाँ चुदाई क्यों कर रहा है इतने आवाज से मेरी नींद खुल गयी। मैं बोला दीदी हम लोग मेरे कमरे में जा रहे है सॉरी आप सो जाओ। दीदी मेरे लंड को घुर घुर कर देख रही थी। मैं और रेखा मेरे कमरे में आ गए और रात में 3 बार चुदाई की सुबह 4 बजे हम दोनों थक चुके थे रेखा बोली चलो जान अब सो जाते है है मैं बोला रुको मैं आता हूँ।

मैं ऐसे ही नंगा दीदी के कमरे में गया और सिंदूर की डिब्बी निकाल कर ले आया। रेखा बोली ये क्या कर रहा है तू ? मैं बोला तुमको अपनी बीवी बना रहा हूँ रेखा बोली लेकिन तुम्हारे घर वाले ? मैं बोला जो होगा देखा जायेगा। मैंने रेखा की मांग में सिंदूर डाल दिया।  अब वो मेरी बीवी थी मैंने रेखा से वादा लिया तुम किसी को कुछ मत बोलना मैं 21 का होते ही हम दोनों कोर्ट मैरिज कर लेंगे। उस रात रेखा बहोत खुस थी मेरी भी खुसी का कोई ठिकाना नहीं था। हम दोनों पति पत्नी थे और नंगे एक दूसरे से लिपटे सोये हुए थे। दूसरे दिन मैं दीदी की जेठानी माया को चोदने से मना कर दिया। रेखा हर रात मेरे कमरे में आती और हम लोग चुदाई करते।

कुछ दिनों बाद मैं वापस अपने घर आ गया अब रेखा की याद में रात गुजार रहा हूँ, मैं 21 साल का होते ही कही कोई जॉब कर लूँगा और फिर माया से शादी । घर वाले माने या न माने ये उनकी मर्जी है। मुझे मेरा सच्चा प्यार मिल गया है अब उसके बिना कुछ भी अच्छा नहीं लगता।



loading...

और कहानिया

loading...
3 Comments
  1. December 30, 2017 | Reply
  2. SATISH KULKARNI
    December 30, 2017 | Reply
  3. karan
    December 31, 2017 | Reply

Add a Comment

Your email address will not be published.


Online porn video at mobile phone


16Sal kihanee xxxशेस विड़ोxxxhindimarwaridase choot chatang vidao bhibha xxxhindi kahaniya sexydesy kahanimoshe ke chudai ke khanehindisxestroyhindi ma saxekhaneyabhabhi sexkhanaiइंडियन बहु रपे सेक्स स्टोरीज हिंदीप्रियंका शहीद अन्तर्वासना कॉमsex story with chachiantar vasna hindixxxsaxykhaniahindixxx hende satorebhai behan ki chudai ki kahanichodkam na photawwwantervasanhinde.comantervasna hindi kahani storiessuhagrat ki story in hindigujarati sex stories in gujarati languageChut kahani hot hot xxxgao ki dehati bhu sss ki bur land ki mastram ki hindi sex story freeChodwane se bur fatgai kahanichoodaiantarwasnadesi girl antervasna storishindi saxmaa kistoryकामुकता डौट कम लडकी ने कुता सकस सटौरीantarvasna sex kahani hindiwwwantervasanhinde.com16Sal kihanee xxxVirayadan marathi sexy kathaबाप ने बेटी को बलकंमेल कंर के चोदा सेकस सटोरीखोत मे चुवाई हिंदी कbadi cut bali desi anti ki cudai onlaenbahanbhaisexstorieschuadisexystoryससूर नै बहू को चोदा ओर ससुर को बहु नै चूचि पिलाइ SEX विडियै।padosi gopal uncle or meri chudai antarvasna.comwww antaravsan com mom mausihindisexstorybhaibahanchut ka photo.comhindisxestroymai jabardasti chudai sexy storyantravashna hindi storyma ne chut Khilaya beta bhai ko X storychudai ki pictureचूत लंड कीघमासान लडाई बीडियो चेहरापढनेXxxचुदाइ काहानियाँ दोस्तकि बिबीकि फोटोके साथantarvassna 2013 hindi storiesLove Me lund se bhabhi Ragni risto me chudai ki kahanisavita aunty storiespapa ke bahar jane par mummy ne uncle se chudwaya sexy storiesहिनदीसेकसीकहानीचुदाइdesi girl antervasna storisonly hindi sex storiesbhabi ko jamkar chodahindi sexi audiochudai ki khani sir tusanकामुकता मे गैर मदॅ से चोदाई की कहानी antar vashna hindilaudaaurburhemacale.dase.bhabe.sxxe.potoschutmamihindisxestroychudaifotobahen.rikshawale ne meri gori janghe sexhindi sex story bhai behanशादी की सालगिरह पर जम कर चोदाmarathivsex stori bhai bahan mamastram ki kahaniरोमाचक चुत पिचरेरीसतो मे सेकसी हिदी कहानीxxx pelte pelte fardiya vdoantarwashana storyhindi suhagrat storiesxxxx kahani hindiIndin rap sexantervasna in hindi