सभी लंड वाले मर्दों के मोटे लंड पर किस करते हुए और सभी खूबसूरत जवान चूत वाली रानियों की चूत को चाटते हुए सभी का मैं स्वागत करती हूँ। अपनी कहानीसेक्स कहानी डॉट नेट के माध्यम से आप सभी मित्रो तक भेज रही हूँ। ये मेरी पहली स्टोरी है।

मेरा नाम मोना है। मैं बनारस की रहने वाली हूँ। मेरा अफेयर कॉलेज के एक लड़के से हो गया था। उसका नाम संजय था। मुझे उसको देखते ही प्यार हो गया। धीरे धीरे हम दोनों का प्यार परवान चढ़ने लगा। मैं कॉलेज की छुट्टी होने के बाद संजय के साथ बाइक पर टहलती थी। एक दिन किसी ने मेरे घर वालो को इसके बारे में बता दिया और मेरे पापा ने मेरी जमकर धुनाई कर दी। मेरे पापा, मम्मी, चाचा, मेरे दो बड़े भैया सब मेरे प्यार के खिलाफ हो गये थे।

“वाह बेटी!!! तुझको कॉलेज पढने के लिए भेजा था। और तू वहां पर लड़को के साथ घूमती रहती है। क्यों हमारा नाम डुबो रही है। अब तू फिर कभी उस लड़के से नही मिलेगी” मेरे पापा से गुस्साकर बोला

फिर कुछ दिन बाद मामला शांत हो गया। मैं फिर से संजय से मिलने लगी। अब फिर से किसी ने देख लिया और मेरे घर में शिकायत कर दी। मेरे घर वाले इस बात से बहुत नाराज थे। उन्होंने जल्दी से मेरी शादी पक्की कर दी। अब मैं क्या करती क्यूंकि मैं संजय से प्यार करती थी। इसलिए मुझे घर से भागना पड़ा। संजय भी रेलवे स्टेशन आ गया और हम दोनों ने पटना की ट्रेन पकड़ ली। संजय सिविल परीक्षा की तयारी कर रहा था। उसकी पटना में अनेक दोस्तों से दोस्ती थी। अब हम दोनों के सामने समस्या थी की कहाँ पर रहते क्यूंकि पुलिस भी हम दोनों को ढूढ़ रही थी। ऐसी मुसीबत में संजय मुझे लेकर अपने दोस्त राजेश के घर चला गया। राजेश का मकान काफी बड़ा और अच्छा था। उसकी फेमिली पटना में ही गाँव में रहती थी। संजय मुझे लेकर राजेश के मकान पर चला गया।

“भाई!! कुछ दिन हम लोगो को अपने घर पर रहने दो” संजय राजेश से बोला

“अपना ही घर समझ यार। तुम दोनों जितने दिन चाहो रह लो” राजेश बोला

अब हम दोनों को किसी तरह की टेंसन नही थी। संजय ने अपना फोन फेंक दिया था जिससे हम दोनों को पुलिस भी ट्रेस न कर सके। अब हमारे पास चुदाई करने का खूब समय था क्यूंकि अब हम दोनों घर से बहुत दूर थे। उस दिन संजय का दोस्त राजेश अपने काम पर चला गया। हम दोनों का इधर मौसम बन गया। संजय मुझे लेकर बेडरूम में आ गया। हमारा किस चालू हो गया। मैं 5 फुट 3 इंच की सेक्सी देसी लड़की थी। मेरा जिस्म काफी छरहरा था। जिस तरह से देसी बनारस की लड़कियाँ दिखती थी मैं वैसी ही थी। मैंने काले रंग का सलवार सूट पहना हुआ था। मेरे बॉयफ्रेंड ने मुझे बेड पर लिटा दिया और प्यार करने लगा। पहले मेरे ओंठो पर ओंठ रखकर किस करने लगा, फिर मुझे बाहों में समेट लिया। indian sex stories ,mastram stories , indian sex stories

“आई लव यू!! मोना!” संजय कहने लगा

मुझे चूसने लगा। मैं भी जवान लडकी थी। अंदर से काफी हॉट थी तो मैं भी चालू हो गयी। मैंने भी बड़े जोश से अपने आशिक को पकड़ लिया। उसे किस करने लगी। हम दोनों मुंह चला चलाकर एक दूसरे के लब चूस रहे थे। संजय मेरे 36 इंच के दूध पर हाथ लगाने लगा। मेरा फिगर 36 28 34 का था इस वजह से संजय भी मुझे चोदने का मन बना चुका था। मुझे लिटाकर मेरी रसीली फूली फूली चूची को सहलाने लगा।

“मोना डार्लिंग!! कुछ होता है की नही” संजय बोला

“होता है…..बहुत मजा मिलता है ओह्ह माँ….ओह्ह माँ…..” मैं बोली

“चलो अपना सलवार सूट उतारो दो मोना रानी” संजय बोला

उसके बाद मैं जल्दी जल्दी अपने कपड़े उतार दी। अपनी ब्रा और पेंटी उतार डाली। उधर संजय अपनी शर्ट पेंट उतार दिया। उसका लंड 8 इंच का बड़ा सा नाग जैसा दिख रहा था। मैं बेड पर लेट गयी। संजय मुझसे चिपक कर लेट गया। मुझे पकड़ लिया और मेरे चुदासे जिस्म पर किस करने लगा। मैं नंगी थी, बिना कपड़े में थी और बहुत चिकनी सामान दिख रही थी। मेरे चेहरे में इतनी कशिश थी की किसी का लंड मैं खड़ा कर सकती थी। संजय मुझे किस करने लगा। मेरे गले और कंधे पर उसने हजारो बार चुम्मा लिया। फिर मेरी 36 इंच की बड़ी बड़ी चूची पर हाथ लगाने लगा। फिर दाबने लगा। मैं “ओह्ह माँ….ओह्ह माँ…उ उ उ उ उ……अअअअअ आआआआ….” किये जा रही थी। सेक्स कहानी डॉट नेट 

“मोना डार्लिंग!! तुम तो किसी अफसरा से कम नही” संजय बोला

फिर जोर जोर से मेरी चूची को मसलने लगा। मेरे दूध बड़े सेक्सी थे। किसी भी लड़का का लंड खड़ा कर देती। उसके बाद संजय मेरी चूची को मुंह में लगाकर चूसने लगा। मैं कुलांचे भरने लगी। अच्छे से चूसा रही थी।

“पी लो संजय जान!! अच्छे से चूस डालो!!” मैं कहने लगी

मेरा बॉयफ्रेंड अब मेरे दूध को हाथ से कस कसके दबा रहा था और मुंह में लेकर चूस रहा था। ऐसी कामुक क्रिया करने से मैं गर्म हो गयी। मेरी चूत अपनी गंध छोड़ने लगी। फिर मेरी बुर अपनी रस छोड़ने लगी। मैं लंड खाने को मरी जा रही थी। संजय मेरे उपर लेट कर मेरे दोनों दूध चूस रहा था। मुझे उसने गर्म कर दिया। मेरी काली काली निपल्स को उसने सेक्सी अंदाज में दांत गड़ाकर काट लिया। मैं “ओहह्ह्ह….अह्हह्हह…अई..अई. .अई… उ उ उ उ उ.. बोलकर सिसक पड़ी। संजय नीचे बढ़ गया और मेरे पेट पर जीभ लगाकर चाटने लगा। चाटते चाटते वो मेरी नाभि पर पहुच गया और जीभ लगाकर उसे कायदे से चूसने लगा। अब तो मेरी हालत और खराब होने लगी। 5 मिनट तक मेरा बॉयफ्रेंड मेरी नाभि को चूसता रहा। फिर बड़े ही आश्चर्य से मेरी चूत देखने लगा। मेरी चूत पर बहुत सारी झांटे थी। काले काले घुघराले बालो का गुच्छा था।

“मोना डार्लिंग!! तेरी झांट बनानी पड़ेगी” संजय बोला

“तो बना डालो जान!!” मैं बोली

फिर संजय ने अपने दोस्त राजेश की शेविंग मशीन ने मेरी झांट बना डाली। मेरी चूत की सब घास को अच्छे से छील डाला। उसे चिकना बना डाला और वेसलीन क्रीम को अच्छे से चूत पर मल दिया। दोस्तों अब मेरी बुर किसी नई नवेली दुल्हन की बुर जैसी दिख रही थी। संजय देख देखकर ही मजे लूट रहा था। फिर जीभ लगा लगाकर चाटने लगा। मेरी चूत बड़ी गद्दीदार थी और उसकी बीच वाली सीधी लाइन कितनी मस्त दिख रही थी। संजय देखकर ही पगला गया और जीभ लगा लगाकर चाटने लगा।

जैसे बच्चे बर्फ का गोला जीभ लगाकर चूसते है। मेरे जिस्म में तन मन में आग सी लग गयी। मैं “आआआअह्हह्हह…..ईईईईईईई….ओह्ह्ह्….अई .अई..अई…..अई..मम्मी…. करने लगी थी। मुझे अपने पैर खोलने पड़े। संजय मेरी जवानी और चूत की सुन्दरता का कायल हो गया और मेरी चूत को जीभ घुमा घुमाकर चाटने लगा। मैं मचल रही थी।

“और चूसो मेरे साजन!!” मैं कहने लगी

जब संजय काफी देर तक चूत चटाई करता रहा तो मैं चुदने को हो गयी। मेरे गुद्दीदार चूत के दाने को संजय विशेष रूप से सता रहा था। फिर चूत में ऊँगली करने लगा। संजय ने अपनी लम्बी वाली ऊँगली मेरी चूत में घुसा डाली। मैं सी सी सी… हा हा—करने लगी। वो चूत की गली में अंदर तक ऊँगली डाल रहा था और बड़ी जल्दी जल्दी अंदर बाहर कर रहा था। मेरी तो जान ही निकली जा रही थी। “हूँउउउ हूँउउउ हूँउउउ ….ऊँ—ऊँ…ऊँ सी सी सी… हा हा.. ओ हो हो….” बोलकर मैं अपनी गांड उठाने लगी। संजय फिर से चूसने लगा।

“संजय जान!! क्या सिर्फ ऊँगली की करोगे या मुझे चोदोगे भी??” मैं कहने लगी

फिर संजय अपने रोकेट जैसे लंड को हाथ में लेकर फेटने लगा। कस कसे फेट रहा था। दोस्तों उसका लंड बड़ा डरावना दिख रहा था। मसल्स वाला लंड था उसका। किसी जहरीले सांप की तरह फुफकार मार रहा था। मेरे बॉयफ्रेंड संजय ने मुठ दे देकर अच्छे से खड़ा कर दिया और अपने रोकेट को मेरी बुर में डालने लगा। मैं कुवारी कन्या था इसलिए चूत की सील बंद थी। मैं दोनों टांग को खोल ली।

“जान!! घुसा डालो अपना लंड!! फाड़ दो मेरी भोसड़ी को!!” मैं बोली

फिर संजय भी अपने रोकेट जैसे लंड को हाथ में पकड़कर मेरी गुलाबी कलर की चूत में घुसाने लगा। अंदर ही नही जा रहा था। बड़े मुस्किल से अंदर गया। मुझे बहुत दर्द हुआ। अब संजय का सांप जैसा लंड पूरा 8 इंच अंदर घुस गया। वो मुझे चोदने लगा। मैं सिसक कर “उ उ उ उ उ……अअअअअ आआआआ… सी सी सी सी….. ऊँ…ऊँ…ऊँ….” करने लगी। संजय भी फुल मूड में आ गया था। धकाधक ठुकाई कर रहा था। मैं दोनों टांग को उपर उठा ली। वो धक्का पर धक्का मारने लगा। मैं कामक्रीड़ा करने लगी। संजय तो पकापक मेरा गेम बजा रहा था। मेरी आवाजे उसने निकलवा दी। कुछ देर बाद वो झड़ गया।

“मोना डार्लिंग!! चल मेरे लौड़े को फेट” संजय बोला

मैं हाथ में लेकर फेटने लगी। हम दोनों कमरे में नग्न अवस्था में थे। अब हमे किसी बात का कोई डर नही था क्यूंकि हम लोग अब बनारस में नही थे। राजेश के घर में भी कोई नही था इसलिए मैं संजय के साथ मजे लूट रही थी। मैं उसका लंड को हाथ में लेकर जल्दी जल्दी नीचे उपर हाथ चलाकर फेटने लगी। फिर मुंह में लेकर चूसने लगी। “….उंह उंह उंह हूँ—चूस और चूस मोना डार्लिंग!!” संजय अपनी आँखे बंदकर कह रहा था, मैं भी आज फुल चुदाई के मूड में आ गयी थी। हम लोग रति क्रीडा में मग्न थे की इतने में अचानक से दरवाजा खुल गया। संजय का दोस्त राजेश आ गया था। हम लोगो तो नंगे थे। राजेश से देखा तो देखता रह गया।

“ओह्ह सोरी!” वो बोला और दूसरे कमरे में चला गया। अब राजेश का भी मूड बनने लगा था। रात पर वो मेरे बारे में सोच रहा था। जब रात हुई तो मैं संजय के साथ सोयी थी। आधी रात में हम दोनों का फिर से मौसम बन गया।

“चल मोना कुतिया बन जा” संजय बोला

मैं भी कपड़े उतारकर कुतिया बन गयी। तभी राजेश हमारे वाले कमरे में घुस आया। और संजय से मेरी चूत मागने लगा।

“भाई!! मुझे भी अपनी गर्लफ्रेंड की चूत दिलवा दो” राजेश बोला

दोस्तों राजेश भी कुछ कम हैंडसम मर्द नही था। वो 6 फुट लम्बा हट्टा कट्टा मर्द था और देखने में खूबसूरत दिखता था। राजेश अपनी पेंट खोलने लगा। जब बार बार निवेदन करता रहा तो संजय तो दया आ गयी।

“आओ भाई!! तुम भी मेरी सामान को चोद खा लो” संजय ने राजेश से कहा

राजेश अपना शर्ट और अंडरवियर खोलकर सम्पूर्ण रूप से नग्न हो गया। उसकी बोडी बड़ी फिट दिख रही थी। 6 पैक्स ऐब बना रखे थे उसने। वो पीछे से आकर मेरे चूतड़ को चाटने लगा। दोस्तों मैंने आपको बताया की मेरा पिछवाड़ा 34 इंच था। मेरे पुट्ठे बड़े बड़े और बेहद नाजुक मुलायम थी। राजेश मुझे कुतिया बनाकर पीछे से किस करने लगा। मेरे दोनों पुट्ठे पर हाथ लगा लगा लगाकर सहलाये जा रहा था। ओंठ लगाकर चुम्मा ले रहा था। फिर मेरी गांड को अच्छे से ताड़ने लगा। दोस्तों आजतक किसी मर्द ने मेरी गांड नही चोदी थी। अब राजेश का पारा चढ़ गया और जीभ लगा लगाकर मेरी गांड का छेद वो चाट रहा था। मेरा छेद बहुत ही चिकना था। राजेश तो देखकर ही पागल हो गया।

मस्ती से चूसने चाटने लगा। मैं कामुक होकर “आऊ…..आऊ….हमममम अहह्ह्ह्हह…सी सी सी सी..हा हा हा..” कर रही थी। मुझे पूरे बदन में सनसनी सी लग रही थी। कितना मजा मिल रहा था। मैं आप लोगो को बता नही सकती। राजेश मेरी गांड के भूरे छेद को अच्छे से चूसता रहा। फिर अपनी अपनी उगली को मुंह में लेकर गीला किया और होले होले मेरी कुवारी गांड में घुसा डाला। मैं पागल होकर …उंह उंह उंह करने लगी। राजेश अब चुदक्कड मर्द बन गया और मेरी गांड में ऊँगली अंदर बाहर करने लगा। मेरा बदन कांपने लगा। मुझे बड़ा अजीब सा यौवन वाला सुख मिल रहा था। राजेश बार बार ऊँगली घुसाता और फिर मुंह में लगाकर चाट लेता। इस तरह से हजारो बार उसने अपनी मोटी ऊँगली मेरी गांड में घुसा डाली और जो रस निकलता उसे मुंह में डालकर चूस जाता।

“राजेश! प्लीस मेरी गांड मारो। घुसा दो अपना पप्पू मेरे छेद में! फाड़ दो मेरी गांड को!” मैं निवेदन करने लगी

अब संजय का दोस्त राजेश 10 इंची लंड को मुठ देने लगा। दोस्तों उसका तो और भी जादा लम्बा और खतरनाक लौड़ा था। किसी अंग्रेज की तरह 10 इंच का था। कुछ देर मुठ देकर खड़ा करता रहा। फिर मेरे मस्त मस्त चूतड़ पर पटकने लगा। फिर चुदाई का मौसम बनाकर अपने हाथ में थूक लेकर अच्छे से मलने लगा। अब मेरी गांड में घुसाने लगा। दोस्तों मैं शरीफ लड़की थी। आज से पहले किसी लड़के से नही चुदी थी। इसलिए मेरी गांड कसी थी। राजेश मेहनत करना रहा और फिर अंदर घुसा डाला। मैं दर्द से मरने लगी। लगा की किसी ने कोई बांस मेरी गांड में घुसा दिया हो। दर्द से कराहने लगी।

अब राजेश जल्दी जल्दी अंदर बाहर करने लगा। मेरी गांड फाड़ने लगा। मेरा क्रिया कर्म करने लगा। मैं शरीफ लड़की की तरह कुतिया बनी रही। राजेश मेरे उपर चढ़कर पीछे से मेरी गांड चुदाई कर रहा था। मैं “अई…..अई….अई… अहह्ह्ह्हह…..सी सी सी सी….हा हा हा…” किये जा रही थी। दर्द भरे समां में गुदा मैथुन करवा रही थी। राजेश तो किसी नीग्रो की तरह हब्सी बनकर मेरी गांड मार रहा था। मेरा बॉयफ्रेंड मेरे सामने ही खड़ा होकर अपने लंड को पकड़कर मुठ दे रहा था। मैं कुतिया बनी रही और कामवश अपना अंगूठा मुंह में लेकर चूसने लगी। राजेश ने 20 मिनट मेरी गांड फाड़ी फिर उसमे भी शहीद हो गया। मैं थककर बिस्तर पर दूसरी साइड गिर गयी।

दोस्तों इस तरह से अब दो दो मर्द रोज रात में मेरी ठुकाई करते थे। मुझे धीरे धीरे संजय और राजेश दोनों से लव हो गया था। फिर दोनों ने मुझसे शादी कर ली। अब आप लोग बोलो को ये कैसे हुआ। पहले दिन संजय मुझे शादी का जोड़ा पहना कर मन्दिर ले गया। शादी कर ली। फिर दूसरे दिन राजेश भी मुझे मन्दिर ले गया और शादी कर ली। अब मैं दो दो मर्दों की औरत बन गयी।

उस रात संजय और राजेश दोनों ने मेरे साथ सुहागरात बनाई। दोनों मर्द कपड़े खोलकर मेरे सामने आ गए।

“मोना रानी!! अब तुम हम दोनों की औरत बन गयी हो। चलो अब हमारे लंडो को चूस डालो” दोनों कहने लगी

मैं भी कपड़े खोलकर नंगी हुई। ब्रा और पेंटी भी उतार डाली। फिर दोनों हाथों में दोनों का लंड लेकर फेटने लगी। चूस चूसकर खड़ा की और अच्छे से चुदवा ली दोनों से। अब मेरे दो पति थे। दोनों मेरी हर रात पेलाई करते थे। आपको स्टोरी कैसी लगी मेरे को जरुर बताना और सभी फ्रेंड्स नई नई स्टोरीज के लिए सेक्स कहानी डॉट नेट पढ़ते रहना। आप स्टोरी को शेयर भी करना।

Write A Comment


Online porn video at mobile phone


antra vasna hindi storyxxx aunty hindibabi ne nanand ko sex karna sekaye antravasanasavitha bhabhi ki chudaiantervasana hindiantr vasnaxxx Bur me bij girnese शिकशी विडीयो फिकेरantarvASna nana dhevtichootkamuktaक्सक्सक्स ग्रुप में फॅमिली की चुदाई हिन्दे अंतर्वासना स्टोरीbhabhi ki marisexxxx kahani hindi free download bhabhikiwwwxxx bat krte huye sex hindi khaniसेकसी कहानी जबरजती की चाची की हिदी मे 2018 compublic sex hindi kahanisexxbhojpurihindisvita bhabhi.comsex xnxx pussy shuhagrat kise kiye jate hai full vidvo hindiहिन्दी एडल्ट स्टोरी १६ सल की मां की लड़की की चूड़ी जन २०१८ की एडल्ट कहानीhendi sexi.comantarvasna bollywoodxxx sex hindi photos16Sal kihanee xxxbhai behan xxxhindexxxhindidesicudaianterwasnasexstories.comchudikkr momchut ka pujari hooसविता भाभी फाटी video chduai storySexy hindi Sali kahanichoutsexstorydesi girl antervasna storismastaram.marathi.saduce.sambhog.katha.naked.deshi.hindi.free.sex.stori.comhindi kahani chudai kiantrvasnasaxstorieschudai ki khani sir tusanभाभा के चुत मे झडाurdu hindi kahanidesi girl antervasna storiswwwantervasanhinde.comdesi girl antervasna storiseosbhabhi ki chudi sadi me online sex vibhabhi ki kahaniya in hindidesi girl antervasna storishindisxestroyhindisex storywww.hiendi sex.comhindhindisexstory antrvasnasaxstoriesbibe.naxxx.dusra.ka.sat.chidesex story so rahi bhabhi ko nind me choda sexstory hindibehen ke sath exam. delane gaya sexkhaniyahindisxestroyएकता पाहूजा को जबरदस्ती चौद दिया sexrani parivar me cudaiमेरी पहली बार चुदाईWWW.KAHNES.PAPA.AG.XXXxristo me chudaie ki kahani desi hindimarid.didi.ko.jiju.chod.nahi.pate.mene.chodabhabhi ki photosexxxxxx khaniya parivariksisterhindisex gurupes storiesbhabhi ki kahaniya in hindihttp://googleweblight.com/?lite_url=http://www.kamukta.com/pados-ki-ladki-ki-chudai/ kamukta commhilaon kaboobs vidvio20 साल गांडू लडको का सेकसी कामुकता Wwwxnx anthrwasana sex kahanesasur bahu stories